कर्नाटक : माईशुगर मिल 30 सितंबर तक पूरी क्षमता से काम करेगी

111

मंड्या :राज्य सरकार के स्वामित्व वाली मैसूर शुगर कंपनी लिमिटेड (माईशुगर ) मिल ने हाल ही में पेराई कार्य शुरू किया है, और 30 सितंबर तक मिल पूरी क्षमता के साथ शुरू होने की उम्मीद है। मिल के दूसरे बॉयलर का काम 20 सितंबर तक पूरा होने की संभावना है।मंड्या जिले के प्रभारी मंत्री के गोपालैया ने कहा कि, गन्ना उपायुक्त ने अन्य चीनी मिलों को निर्देश दिया है कि वे अपने अधिकार क्षेत्र में नहीं आने वाले गन्ने की कटाई न करें।उन्होंने स्पष्ट किया कि, माईशुगर मिल के अधिकार क्षेत्र में आने वाले गन्ने को अन्य मिलों द्वारा नहीं काटा जाना चाहिए।मिल के पेराई की समीक्षा के बाद मंत्री गोपालैया ने कहा, यदि माईशुगर मिल से संबंधित गन्ना अन्य मिलों में ले जाया जाता है, तो ऐसी उपज को जब्त कर लिया जाएगा।

उन्होंने मिल के अधिकारियों से कहा कि, किसानों द्वारा मिल को आपूर्ति किए गए गन्ने के लिए निर्धारित समय के भीतर भुगतान करें।गोपालैया ने कहा, अगर गन्ना उत्पादकों में विश्वास जीत लिया जाता है, तो वे अपनी उपज को मैसूर मिल को आपूर्ति करना जारी रखेंगे।गोपालैया ने कहा कि, वह सभी विभागों के कामकाज की निगरानी के लिए 30 सितंबर को मिल का दौरा करेंगे। उन्होंने यह भी कहा की, हम अक्टूबर में मुख्यमंत्री को आमंत्रित करने और उन्हें मिल के कामकाज को दिखाने की योजना बना रहे है। मुख्यमंत्री के दौरे से पहले मैं कारखाने का दौरा करूंगा और इसके संचालन का निरीक्षण करूंगा।आपको बता दे की, मिल को इस सीजन में 4,000 टन गन्ने की पेराई का लक्ष्य दिया गया है। कई वर्षों के गैर-परिचालन के बाद, इकाई को कई प्रयासों के बाद सरकार द्वारा पुनर्जीवित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here