भारत में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अगले 100 से 125 दिन महत्वपूर्ण: केंद्र सरकार

93

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को अपने साप्ताहिक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आगाह किया कि, भारत में कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में अगले 100 से 125 दिन महत्वपूर्ण हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रेस कॉन्फ्रेंस में नीति आयोग के सदस्य-स्वास्थ्य डॉ वीके पॉल ने कहा कि, मामलों में गिरावट धीमी हो गई है, और यह एक चेतावनी संकेत है। उन्होंने आईसीएमआर द्वारा किए गए एक अध्ययन को साझा किया, जिसमें पुलिस कर्मियों में वैक्सीन प्रभावशीलता का विश्लेषण किया है। अध्ययन से पता चलता है कि, वैक्सीन की दो खुराक दूसरी लहर में कोरोना महामारी से होने वाली 95 प्रतिशत मौतों को रोकने में सफल रहीां टीके की एक खुराक मृत्यु दर को 82 प्रतिशत तक कम करने में सक्षम थी।

डॉ वीके पॉल ने कहा कि, हम जुलाई से पहले 50 करोड़ खुराक देने के एक निर्धारित लक्ष्य की ओर बढ़ रहे हैं। हम इसे हासिल करने की राह पर हैं। सरकार ने कोविशील्ड और कोवैक्सिन की 66 करोड़ खुराक का ऑर्डर दिया है। इसके अतिरिक्त, 22 करोड़ खुराक निजी क्षेत्र को जाएगी। पॉल ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें एक लक्ष्य दिया है कि, कोई तीसरी लहर नहीं होनी चाहिए।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, विश्लेषण से पता चलता है कि जैसे ही हम गतिविधियों को फिर से शुरू करते हैं, फेस मास्क के उपयोग में अनुमानित गिरावट आई है। हमें अपने जीवन में फेस मास्क के उपयोग को एक नए सामान्य के रूप में शामिल करना चाहिए। अग्रवाल ने कहा कि, देश में रोजाना नए मामलों में दूसरी लहर के दौरान गिरावट का सिलसिला जारी है। औसत दैनिक नए मामले 5-11 मई के बीच 3,87,029 मामलों से घटकर 14 जुलाई से 16 जुलाई के बीच 40,336 हो गए है।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here