उत्तर प्रदेश में पिछले पेराई सत्र का हुआ शत-प्रतिशत गन्ना मूल्य भुगतान

121

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गन्ना भुगतान हर सीजन में एक अहम मुद्दा बना रहता है। पिछले सीजन के बकाया भुगतान को लेकर भी किसानों ने चीनी मिलों को घेरा था। इसको देखकर प्रसाशन और राज्य सरकार हरकत में आयी थी और चीनी मिलों को जल्द से जल्द गन्ना भुगतान करने के निर्देश दिए थे। आख़िरकार राज्य सरकार की मेहनत रंग लायी और अब पिछले पेराई सत्र 2019-20 का शत प्रतिशत गन्ना भुगतान किया गया।

इस संबंध में जानकारी देते हुए प्रदेष के आयुक्त गन्ना एवं चीनी, संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग कोरोना महामारी की इस देशव्यापी विभीषिका के दौरान भी गन्ना किसानों के आर्थिक हितों की रक्षा हेतु प्रतिबद्ध है। उन्होने बताया कि प्रदेष की चीनी मिलों द्वारा पेराई सत्र 2019-20 के देय गन्ना मूल्य रू.35,898.85 करोड़ के सापेक्ष शत-प्रतिशत गन्ना मूल्य भुगतान किसानों को कर दिया गया है। पेराई सत्र 2020-21 के भी लगभग 63 प्रतिषत गन्ना मूल्य का भुगतान सम्पन्न हो चुका है, तथा किसानों के हितो के प्रति सजग वर्तमान सरकार के कार्यकाल में पूर्व के पेराई सत्रों के भुगतान सहित अब तक रू.1,35,111 करोड़ का भुगतान प्रदेष के गन्ना किसानों को कराया जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here