गन्ना काटने के लिए 17.50 लाख रुपए की धोखाधड़ी

159

कोल्हापुर: शिरोल पुलिस ने गन्ना काटने के लिए 17.50 लाख रुपए की धोखाधड़ी मामले में दो कांट्रैक्टरों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इन कांट्रैक्टरों ने गन्ना काटने के लिए मजदूर सप्लाई करने का वादा किया था और शिकायतकर्ता से 17.50 लाख रुफए एडवांस भी ले लिये थे।

शिकायतकर्ता के अनुसार दोनों कांट्रैक्टरों ने पैसे लेने के बाद मजदूर सप्लाई नहीं किये और पैसे भी वापस नहीं किया। शिकायतकर्ता कोल्हापुर के शिरोल तालुका के अर्जुनवाड़ निवासी प्रशांत विठ्ठल पाटिल है। पाटिल ने कहा कि उसने गन्ना काटने के लिए दत्ता सहकारी चीनी मिल से गारंटी हासिल करने के बाद एक बैंक से 8.75 लाख रुपये उधार लिया था। और उन पैसों को आरोपी को एडवांस के रुप में एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद दिये थे। आरोपी को इन पैसों के बदले गन्ना काटने के लिए मजदूर उपलब्ध कराना था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

पाटिल ने कहा कि एग्रीमेंट होने के बाद उसने आरोपियों के बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर किया था। लेकिन, आरोपियों ने गन्ना काटने के लिए एक भी मजदूर उपलब्ध नहीं कराया। इसके बाद पाटिल ने शिरोल पुलिस में धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई।

एक अन्य मामले में शिकायतकर्ता ने इसी तरह से अपने साथ 8.75 लाख रुपये की ठगी किये जाने का दावा किया है। पुलिस ने संदिग्ध आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

शिरोल पुलिस स्टेशन के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हम मामले की जांच कर रहे हैं और जल्द ही दोनों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरु करेंगे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here