2021-2022 सीजन: देश में एथेनॉल उत्पादन बढ़ने से चीनी उत्पादन घटने का अनुमान

159

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा एथेनॉल समिश्रण निति को बढ़ावा देने के कारण अगले 2021-22 सीज़न में देश के चीनी उत्पादन में मामूली गिरावट होकर 30.5 मिलियन टन रहने की संभावना है क्योंकि अधिक गन्ने को एथेनॉल बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। बिज़नेस स्टैंडर्ड में प्रकाशित खबर के मुताबिक, खाद्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव सुबोध कुमार ने सिंह ने पीटीआई को बताया की इस साल गन्ने की फसल कुल मिलाकर अच्छी है। देश में एथेनॉल बनाने के लिए अधिक गन्ना डायवर्ट होने की उम्मीद के चलते चीनी उत्पादन 2021-22 सीजन के दौरान चीनी उत्पादन 30.5 मिलियन टन होगा। ।

उन्होंने कहा कि, मौजूदा सीजन में 20 लाख टन चीनी के उत्पादन के लिए जरुरी गन्ने को एथेनॉल बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा, जबकि 2021-22 सीजन में 35 लाख टन चीनी के उत्पादन के लिए जरुरी गन्ने को डायवर्ट किया जाएगा। हालांकि, चीनी का उत्पादन घरेलू खपत को पूरा करने के लिए पर्याप्त होगा, जिसके 2021-22 सीजन में 3,00,000-4,00,000 टन बढ़कर 26.3-26.5 मिलियन टन होने की उम्मीद है। 2020-21 सीजन में घरेलू खपत 26 मिलियन टन रहने का अनुमान है।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here