उत्तर प्रदेश की चीनी मिलों द्वारा अब तक 61 प्रतिशत भुगतान

155

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गन्ना भुगतान का मुद्दा हमेशा गरमाया रहता है और अब राज्य का दावा है की पिछले सत्र का भुगतान चूका दिया गया है।

गन्ना मंत्री सुरेश राणा द्वारा गन्ना मूल्य भुगतान की समीक्षा की गयी, जिस पर अपर मुख्य सचिव, संजय आर. भूसरेड्डी द्वारा बताया गया कि, गत पेराई सत्र-2019-20 के देय गन्ना मूल्य रू.35,898.85 करोड का सम्पूर्ण भुगतान गन्ना किसानों को कराया जा चुका है। वर्तमान पेराई सत्र 2020-21 के भी लगभग 61 प्रतिशत गन्ना मूल्य का भुगतान किसानों को किया जा चुका है। बैठक के दौरान मंत्री द्वारा गन्ना मूल्य भुगतान में और तेजी लाने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

मंत्री राणा ने गन्ना किसानों, विभागीय कर्मियों और चीनी मिल श्रमिकों को कोरोनोवायरस संक्रमण और प्रसार से बचाव के उपायों की समीक्षा की। राज्य में गन्ना पेराई का सीजन खत्म होने वाला है और 50 चीनी मिलें अभी भी चल रही हैं। उन्होंने कहा कि covid -19 की रोकथाम के लिए सभी क्षेत्रीय और जिला-स्तरीय विभागीय अधिकारियों और चीनी मिलों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here