बहन-बेटियों की शादी के दौरान किसानों को 80 फीसदी गन्ना भुगतान करने की मांग

375

थानाभवन, शामली (उत्तर प्रदेश): गन्ना बकाया का मुद्दा अहम बना हुआ है। जिसको लेकर गन्ना किसान विरोध-प्रदर्शन करते आ रहे है।

गन्ना सहकारी समिति बोर्ड की शनिवार को यहां आयोजित बैठक के दौरान किसानों ने गन्ना बकाया मुद्दे पर चर्चा की। उनका आरोप था कि मिल और समिति न तो समय पर किसानों को पर्चियां दे रहे और न ही नियमानुसार भुगतान किया जा रहा है, जिसकी वजह से किसानों को हर दिन परेशानियों से गुज़रना पड़ता है। शादियों के सीजन में किसानों को अपनी बहन-बेटियों की शादी में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने मांग की कि जिन किसानों के घर में कन्या का विवाह होना है, उन्हें कम से कम 80 प्रतिशत भुगतान दिया जाए, ताकि विवाह कार्य निर्विघ्न संपन्न हो सकें।

इस मुद्दे पर चीनी मिल अधिकारियों ने सहमति जताई। बैठक में वित्तीय वर्ष 2019-20 के खर्च व 2020-21 के बजट के साथ ही गन्ने का भुगतान, नए बीज, गोदाम, खाद व दवा आदि पर भी चर्चा हुई। समिति में कर्मचारियों की घटती संख्या पर भी विचार करते हुए जल्द कर्मचारियों की भर्ती करने की मांग की गई। समिति ने कहा कि सभी किसानों का गन्ना खत्म होने तक मिलों में पेराई जारी रहेगी।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here