9 हजार करोड़ रुपये बकाया : बिजनौर में गन्ना किसानों ने निकाला विरोध मार्च

747

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

बिजनौर: बिजनौर में सैकड़ों किसानों ने नौ चीनी मिलों से अपने बकाया भुगतान की मांग को लेकर विरोध मार्च निकाला, जिसमें उन्होंने कहा कि, बकाया भुगतान अब 9,000 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर गया है। आम चुनावों के बाद अपने पहले आंदोलन में, किसान पुलिसकर्मियों से भी भिड़ गए, जिन्होंने कुछ क्रॉसिंग पर बैरिकेड लगा दिए थे। झड़प में किसान घायल हो गये।

किसान बिजनौर शहर के बाहरी इलाके में एकत्र हुए और कलक्ट्रेट की ओर मार्च किया। अपने विरोध को चिह्नित करने के लिए, उन्होंने कलेक्ट्रेट की चारदीवारी पर बैल बाँध दिए। बीकेयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, “राज्य सरकार और प्रशासन चीनी मिल मालिकों के जैसे ही हाथ पर हाथ रखकर बैठे हैं। किसान उन कर्जों को चुकाने में विफल रहे हैं जो उन्होंने बैंकों से लिए थे।प्रशासन किसानों की भूमि को कम कीमतों पर नीलाम करने की कोशिश कर रहा है। हमने मांग की है कि, जब तक चीनी मिलें किसानों के बकाए का भुगतान नहीं करतीं, तब तक किसी भी जमीन की नीलामी नहीं की जानी चाहिए। इसके अलावा, हमने मांग की है कि किसान क्रेडिट कार्ड योजना के मानदंडों को बदला जाना चाहिए। यदि किसान समय पर कर्ज पर ब्याज देते हैं, तो उनके कार्ड का नवीनीकरण किया जाना चाहिए और कोई अतिरिक्त ब्याज नहीं लिया जाना चाहिए और उन्हें कर्जदार घोषित नहीं किया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here