आने वाले 5 साल में हासिल किया जा सकता है 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्यः पीयूष गोयल

303

नई दिल्ली: केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग और रेलवे मंत्री श्री पीयूष गोयल ने कहा कि भारत प्रबंधन प्रतिभाओं के लिहाज से खासा संपन्न देश है। करोड़ों लोगों ने देश सेवा, निगमों की सेवा, उद्यम सेवा और सरकार की सेवा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया है। उन्होंने कहा कि 5 लाख करोड़ (ट्रिलियन) डॉलर की अर्थव्यवस्था खड़ी करना एक ऐसा लक्ष्य है, जिसके लिए देश की 1 अरब 30 करोड़ की आबादी जुट जाए तो आने वाले पांच साल में इसे हासिल किया जा सकता है।

श्री गोयल आज नई दिल्ली में अखिल भारतीय प्रबंधन एसोसिएशन (एआईएमए) के 64वें स्थापना दिवस और 14वें राष्ट्रीय प्रबंधन दिवस के अवसर पर हुए एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। श्री गोयल ने प्रधानमंत्री के अगले पांच साल में 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था तैयार करने के लिए दूरदर्शी लक्ष्य और मिशन को पूरा करने के लिए सभी से एकजुट होने और सहयोग के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया, जिससे भारत को वास्तव में एक सुपरपावर बनाया जा सके।

श्री गोयल ने कहा कि एमएसएमई एक ऐसा क्षेत्र है जो सही पहचान पाने का हकदार है, क्योंकि इनमें से कई वास्तव में शानदार कार्य कर रहे हैं। एमएसएमई में सबसे ज्यादा नौकरियां पैदा होती हैं, सबसे बड़े निर्यातक और वे भारतीय अर्थव्यवस्था में सबसे ज्यादा योगदान कर रहे हैं और एक राष्ट्र के रूप में भारत उनके बिना आगे नहीं बढ़ सकता है।

केंद्रीय मंत्री श्री पीयूष गोयल ने कहा, “हम सभी को आगे बढ़कर राष्ट्र निर्माता बनना चाहिए और देश के दूरदराज के इलाकों में अपने सुशासन और बेहतर प्रबंधन को ले जाना चाहिए।”

श्री पीयूष गोयल ने एमएसएमई, सार्वजनिक सेवाओं में नवाचार के क्षेत्र में योगदान और प्रबंधकीय पदों पर विशेष उपलब्धियों के लिए सम्मान हासिल करने वालों को बधाई दी। श्री गोयल ने उद्यमों की सफलता में नवाचार के महत्व पर भी जोर दिया।

(Source: PIB)

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here