देश में बढ़ते कोरोनावायरस मामलों के बीच सरकार रखेगी अहम चीजों के कीमतों पर निगरानी

144

नई दिल्ली : चीनी मंडी

उपभोक्ता मामलों, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री पासवान ने कहा की, देश में बढ़ते कोरोनावायरस मामलों के बीच इन वस्तुओं की मांग बढ़ने के कारण केंद्र साबुन, फ्लोर क्लीनर और थर्मल स्कैनर की कीमतों पर करीब से नजर रख रहा है। आम तौर पर, उपभोक्ता मामले मंत्रालय 22 आवश्यक वस्तुओं की कीमतों पर नज़र रखता है। हाल ही में, मंत्रालय ने आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत फेस मास्क और हैंड सैनिटाइज़र भी शामिल किए। पासवान ने कहा, हम लिज़ोल और डेटॉल जैसे तीन और उत्पादों के साथ-साथ थर्मल स्कैनर की कीमतों की निगरानी कर रहे हैं। जिनकी मांग कोरोनोवायरस के डर से बढ़ रही है। इन उत्पादों की कीमतों पर देशभर के 114 केंद्रों से नजर रखी जाएगी।

उन्होंने कहा कि हैंड सैनिटाइजर और फेस मास्क अब आवश्यक वस्तुएं हैं और इन उत्पादों की जमाखोरी और कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सरकार जिन 22 वस्तुओं पर नज़र रखती है, उनमें खाद्यान्न (चावल, गेहूँ, आटा ), दालें (चना, अरहर, उड़द, मूंग, मसूर), खाद्य तेल (मूंगफली का तेल, सरसों का तेल, वनस्पती, सोया तेल,) सूरजमुखी तेल, ताड़ का तेल), सब्जियां (आलू, प्याज, टमाटर) और अन्य चीजें (चीनी, गुड़, दूध, चाय, नमक) शामिल हैं।

पासवान के अनुसार, लोगों में COVID-19 (कोरोनावायरस) के प्रकोप के बारे में उच्च जागरूकता है, और अन्य देशों की तुलना में भारत में प्रकोप की गंभीरता कम है। उन्होंने कहा, घबराने की जरूरत नहीं है, हालांकि हमें खुद को बचाने के लिए सभी एहतियाती उपायों का पालन करने की जरूरत है। शास्त्री भवन में, जहां पासवान का कार्यालय है, मंत्री ने प्रवेश और निकास द्वारों पर हैंड सेनिटाइज़र डिस्पेंसर रखा है। यहाँ आगंतुकों की थर्मल स्कैनिंग भी की जाती है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here