भारी बारिश और बाढ़ के कारण हुए नुकसान के चलते आंध्र प्रदेश ने केंद्र से आर्थिक सहायता का अनुरोध किया

157

अमरावती: भारी बारिश और बाढ़ के चलते आंध्र प्रदेश ने सरकार से आर्थिक सहायता मांगी है। राज्य सरकार ने सोमवार को केंद्र से अनुरोध किया कि, अगस्त-अक्टूबर के दौरान राज्य में भारी बारिश और बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त हुए बुनियादी ढांचे की बहाली के लिए 5,279 करोड़ रुपये का अनुदान दे। आंध्रा के मुख्य सचिव नीलम साहनी ने संयुक्त सचिव सौरव रे की अगुवाई में अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम को बताया कि, अगस्त, सितंबर और अक्टूबर के दौरान कृष्णा और गोदावरी नदियों में आई बाढ़ और भारी बारिश के कारण आंध्र प्रदेश को 6,320.83 करोड़ रुपये की सकल क्षति हुई। धान, मक्का, कपास, काले चने, दलहन और गन्ना जैसी कृषि फसलों को 2,12,588 हेक्टेयर में नुकसान हुआ। क्षतिग्रस्त बुनियादी ढांचे की राहत और बहाली के लिए कुल 5,279.11 करोड़ रुपये की आवश्यकता है, जिसमें राष्ट्रीय आपदा राहत कोष के मानदंडों के अनुसार 840.07 करोड़ रुपये की आवश्यकता है।

मुख्य सचिव नीलम साहनी ने यहां सचिवालय में एक उच्च-स्तरीय बैठक में बताया की, क्षतिग्रस्त बुनियादी ढांचे की स्थायी बहाली के लिए 4,439.14 करोड़ रुपये की आवश्यकता है। मुख्य सचिव नीलम साहनी ने कहा कि, आंध्र प्रदेश में 13 अगस्त से 17 अक्टूबर तक चार लो-प्रेशर सिस्टम और बंगाल की खाड़ी में बने एक गहरे अवसाद के कारण भारी बारिश हुई। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ द्वारा सर्वोत्तम बचाव प्रयासों के बावजूद दीवार गिरने, डूबने और भूस्खलन जैसी बारिश से संबंधित घटनाओं में 45 लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच लोग लापता हो गए।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here