बलरामपुर चीनी मिल ने समाप्त किया गन्ना पेराई सत्र

7248

बलरामपुर, उत्तर प्रदेश: देश में कोरोना वायरस के कारण चीनी मिलों के पेराई जरूर पडा है। महाराष्ट्र में लगभग चीनी मिलों ने गन्ना पेराई खत्म कर लिया है लेकिन उत्तर प्रदेश में अभी भी चीनी मिलों में पेराई जारी है।

उत्तर प्रदेश में चीनी मिलें सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन कर मिलों में पेराई कर रही है। इसी बिच बलरामपुर चीनी मिल ने गन्ना पेराई समाप्त कर लिया है।

मिल के अध्यासी अध्यक्ष मधुकर मिश्रा ने कहा कि देश आज कोरोना संकट से लड़ रहा है। हमारी मिल भी कोरोना से बचाव के नियमों का सख्ती से पालन हो रहा है। गन्ने की खरीद में सोशल डिस्टेंसिंग से नियमों का पूरा पालन किया गया। उन्होंने कहा कि फिलहाल उनकी चीनी मिल में वर्तमान सीजन का पेराई सत्र समाप्त हो चुका है। इस सत्र के दौरान मिल में कुल एक करोड़ 62 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई हुई और 17 लाख बोरे से अधिक चीनी का उत्पादन हुआ।

चीनी मिलों द्वारा गन्ना किसानों के पैसे का भुगतान सतत एक समस्या रही है। लेकिन बलरामपुर चीनी मिल के किसानों को इसकी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा है। 22 मार्च तक खरीदे गए गन्ना मूल्य का भुगतान किया जा चुका है। 372.83 करोड़ रुपए का भुगतान गन्ना किसानों को दिया जा चुका है।

मिल द्वारा गन्ना पेराई अच्छे से समाप्त हुआ, इस अवसर पर मिल के विधि एवं कार्मिक प्रधान प्रबंधक राजीव अग्रवाल ने बलरामपुर चीनी मिल के अधिकारियों, कर्मियों एवं गन्ना कृषकों तथा मिल के सारे वरिष्ठ अधिकारियों को बधाई दी।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here