बैंक कर्मचारी जाएंगे 3 दिवसीय हड़ताल पर

191

नई दिल्ली: यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स (यूएफबीयू) के संयोजक और ऑल इंडिया एसबीआई स्टाफ फेडरेशन के महासचिव संजीव कुमार बंदलिश ने कहा कि, देश भर के बैंक कर्मचारी 11 मार्च से वेतन संशोधन सहित अन्य मांगों को लेकर तीन दिवसीय हड़ताल पर जाएंगे, अगर 1 अप्रैल को इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (आईबीए) के साथ वार्ता विफल हो जाती है तो अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की जाएगी।

रविवार को यहां मीडिया को संबोधित करते हुए, बंदलिश ने कहा कि, वेतन संशोधन पर आईबीए के साथ बातचीत जारी है और यह 5 मार्च तक जारी रहेगी। कर्मचारियों की मुख्य मांगों में 5 दिन बैंकिंग, अद्यतन पेंशन और परिवार पेंशन में सुधार शामिल है। ‘यूएफबीयू’ ने 31 जनवरी और 1 फरवरी को इसी मुद्दों पर दो दिवसीय हड़ताल की, तब मुख्य श्रम आयुक्त ने आईबीए से यूनियनों के साथ बातचीत करने को कहा था। लेकिन ‘आईबीए’ मुख्य मांगों पर विचार करने के लिए अनिच्छुक है। ‘यूएफबीयू’ के प्रतिनिधियों ने आपसी परामर्श के बाद, यह आईबीए को अवगत कराया गया था कि अगर वेतन पुनरीक्षण निपटान प्रस्ताव को 12.5% से बढ़ाकर 15% कर दिया गया, तो शेष मुद्दों को आगे की बातचीत के माध्यम से सुलझाया जा सकता है। बंदलिश ने कहा कि, ‘आईबीए’ ने प्रस्ताव में सुधार करने में असमर्थता जताई और इसलिए ‘यूएफबीयू’ ने हड़ताल को आगे बढ़ाने का फैसला किया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here