भीमाशंकर चीनी मिल अपनी पेराई क्षमता का विस्तार करेगी…

380

पुणे : चीनी मंडी

भीमाशंकर चीनी मिल को केंद्र सरकार द्वारा इथेनोल उत्पादन के लिए एक आसवनी स्थापित करने की अनुमति दी गई है। मिल के अध्यक्ष दिलीप वलसे-पाटिल ने कहा की, मिल की पेराई क्षमता अब 6000 टन हो जाएगी। आम्बेगाव तहसील के दत्तात्रयनगर – परसगाव में स्थित भिमाशंकर चीनी मिल के 20 वा बॉयलर अग्नि प्रदीपन समारोह में वलसे-पाटिल बोल रहे थे।

वलसे-पाटिल ने कहा की, मिल ने 2018- 2019 चीनी सीजन में 180 दिनों में लगभग 8 लाख 12 हजार 909 टन गन्ने की पेराई की और 11.85 औसत रिकवरी दर से 9 लाख 62 हजार 475 क्विंटल चीनी का उत्पादन किया था। को-जनरेशन प्लांट द्वारा 188 दिनों में 6 करोंड 92 लाख 90 हजार यूनिट बिजली का उत्पादन किया गया। इस सीजन में सुखा और तेज बारिश की वजह से गन्ना उत्पादन घटने का अनुमान है। भिमाशंकर मिल ने इस साल 5.50 लाख टन गन्ना पेराई का लक्ष्य तय किया है। उस दृष्टी से सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here