भारत द्वारा चीनी निर्यात की अनुमति मिलने से भूटान को बड़ी राहत

101

नई दिल्ली : भूटान के ग्यारह उद्योग जिन्हें प्रमुख कच्चे माल के रूप में चीनी की आवश्यकता होती है, वे अब चीनी का आयात कर सकते हैं। उन्हें अक्टूबर अंत तक 10,000 मीट्रिक टन (MT) चीनी की आवश्यकता है। भारत सरकार ने भूटान के अनुरोध के बाद 19 जुलाई को विशेष अनुमति दी। भारत के इस फैसले से भूटान को बड़ी राहत मिली है, और भूटान सरकार ने भारत का धन्यवाद किया है।

भारत के विदेश व्यापार महानिदेशालय ने 31 अक्टूबर, 2022 तक चीनी के निर्यात को रोक दिया। हालांकि, यह उल्लेख किया गया था कि चीनी के निर्यात की अनुमति केवल चीनी निदेशालय से विशिष्ट अनुमति के साथ दी जाएगी। इस आयात प्रतिबंध के बाद, खाद्य, कृषि और पेय उद्योग ने सरकार को Association of Bhutanese Industries (ABI) के माध्यम से लिखा था कि भारत से चीनी आयात निलंबित होने पर कारखाने बंद हो जाएंगे। इस बीच 19 जुलाई को भारत की ओर से जारी एक अधिसूचना में कहा गया कि, भूटान को चीनी निर्यात की विशेष अनुमति को छोड़कर जून में जारी संयुक्त निर्यात जारी आदेश की अन्य सभी शर्तें यथावत रहेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here