चीनी मिलों को बड़ी राहत: केंद्र सरकार का FRP के ऊपर टैक्स नहीं लगाने का फैसला…

145

मुंबई/पुणे: केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र में सहकारी और निजी चीनी मिलों दोनों को बड़ी राहत का कदम उठाया है। केंद्र सरकार ने गन्ना किसानों को उचित और लाभकारी मूल्य (FRP) से ऊपर का भुगतान जो कर योग्य हैं, टैक्स नहीं लगाने का फैसला किया है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के परामर्श के बाद सहकारिता मंत्री अमित शाह द्वारा लिए गए निर्णय से महाराष्ट्र में 116 चीनी मिलों के लिए 8,500 करोड़ रुपये के संचयी कर बोझ को कम करने में मदद मिलेगी। यह फैसला सात जनवरी को लिया गया था।

केंद्र सरकार का यह कदम राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस के पिछले साल सितंबर और अक्टूबर में दिल्ली में शाह से चीनी दिग्गजों के प्रतिनिधिमंडलों के साथ मिलने के बाद आया है। एफआरपी केंद्र द्वारा निर्धारित न्यूनतम मूल्य है, जो चीनी मिलों को गन्ना किसानों को भुगतान करना पड़ता है। हालांकि, जब चीनी की रिकवरी अधिक होती है, तो मिलें अक्सर किसानों को एफआरपी से अधिक राशि का भुगतान करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here