भाकियू ने चीनी मिलों को दी 17 अगस्त की ‘डेडलाइन’

5145

मुजफ्फरनगर: जिलें में मिलों द्वारा किसानों का पूरा गन्ना मूल्य बकाया नहीं चुकाया गया है। गन्ना किसानों का कहना है की बार बार आवाहनं करने के बावजूद मिलें भुगतान करने में नाकाम रही है। बकाया भुगतान की मांग को लेकर भाकियू आवाज उठा रही है। भाकियू ने चीनी मिलों को ब्याज सहित भुगतान के लिए 17 अगस्त की ‘डेडलाइन’ दी है। जिला गन्ना अधिकारी कार्यालय पर मिल महाप्रबंधकों व उनके प्रतिनिधियों संग हुई भाकियू की बैठक में राकेश टिकैत ने घोषणा की कि, यदि चीनी मिलों ने किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान के बकाया का ब्याज सहित भुगतान नहीं किया तो 17 अगस्त को हर मिल क्षेत्र में किसान थाने पर पशुओं के साथ धरना देंगे।

जागरण डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, बैठक में एडीएम प्रशासन अमित कुमार, पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल, डीसीओ डा. आरडी द्विवेदी के अलावा जनपद के चीनी मिल प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

राज्य सरकार का कहना है की वे गन्ना बकाया भुगतान को लेकर काफी गंभीर है, जिसके कारण राज्य के कई मिलों द्वारा भुगतान भी किया जा रहा है। चीनी मिलों का कहना है की वे कोरोना संकट के कारण परेशान है। कोरोना के कारण चीनी बिक्री ठप है, जिसके चलते वे राजस्व की समस्या से जूझ रहे है और गन्ना बाकय भी चुकाने में विफल हुए है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here