ब्राजील: मिलें जल्द शुरू कर सकती है गन्ना पेराई

187

साओ पाउलो: विश्लेषकों और मौसम एजेंसियों ने कहा, ब्राजील के गन्ना, कॉफी और मकई क्षेत्रों में पाला-शीत लहर (Frosts) ने दस्तक दी है, देश में रियो ग्रांडे डो सुल के दक्षिणी राज्य से साओ पाउलो के उत्तरी भाग तक बहुत कम तापमान देखा गया। ग्रामीण क्लिमा के मौसम विज्ञानी मार्को एंटोनियो डॉस सैंटोस ने बुधवार को कहा, ब्राजील में इस तरह के शीत लहर को देखे हुए एक लंबा समय हो गया है। शीत लहर ने पराना में कॉफी के खेत प्रभावित हो सकते है। साओ पाउलो का देश के चीनी उत्पादन में 60% से अधिक हिस्सा है, वहां से भी शीत लहर की खबरें आई है। शीत लहर से गन्ने की फसल प्रभावित होने की आशंका जताई जा रही है।

सोमर के मौसम विज्ञानी सेल्सो ओलिवेरा ने रिबेराओ प्रेटो का हवाला देते हुए जो मुख्य चीनी क्षेत्र है कहा, “”गन्ने के लिए, प्रभाव अधिक गंभीर है (साओ पाउलो में कॉफी की तुलना में).”

मौसम विशेषज्ञों ने कहा कि मकई के संबंध में, अभी ठंड से होने वाले नुकसान का अनुमान लगाना मुश्किल है, क्योंकि ब्राजील के दूसरे अनाज उत्पादक पराना में ठंड का मौसम बना रहेगा। लेकिन मक्का के लिए और नुकसान होने की संभावना है। ठंड के मौसम में गन्ना कटाई में तेजी आएगी, क्योंकि मिलें घाटे को कम करने और जल्द ही पेराई शुरू करने की कोशिश कर सकती हैं। ओलिवेरा ने कहा, ठंड से गन्ना बढ़ना बंद हो जाता है और इससे चीनी की मात्रा कम हो जाती है।इसलिए मिलें समय से पहले फसल काटने को मजबूर होती हैं।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here