ब्रिटिश शुगर फैक्ट्रियों के श्रमिकों ने वेतन विवाद को लेकर हड़ताल की धमकी दी

240

लंदन: ब्रिटिश शुगर फैक्ट्रियों के श्रमिक हड़ताल के मुद्दे पर मतदान करने के लिए तैयार हैं क्योंकि वेतन वृद्धि विवाद पर तनाव दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है। यूनाइट यूनियन ने कहा कि नॉरफ़ॉक, सफ़ोक और नॉटिंघमशायर में ब्रिटिश शुगर के चार मिलों के 500 सदस्यों ने कंपनी के 2 प्रतिशत वेतन वृद्धि के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है। 86 प्रतिशत तकनीशियनों, इंजीनियरों और आपूर्ति श्रृंखला के लोगों ने प्रस्ताव के खिलाफ मतदान किया। जिसके चलते कैंटली, सिंगटन, बरी सेंट एडमंड्स और नॉटिंघमशायर मिलों में संभावित हड़ताल के लिए एक मतदान प्रक्रिया शुरू की गई है।

कर्मचारी यूनियन ने कहा कि, उसके सदस्य इस बात से नाराज हैं कि, कंपनी ने उचित वेतन वृद्धि को लागू करने का वचन दिया था, जब यह 2019 में एक कठिन वित्तीय वर्ष के दौरान कर्मचारियों द्वारा 1 प्रतिशत की वेतन वृद्धि की स्वीकृति के बाद फायदे में लौट आई। यूनियन ने दावा किया कि, जब ब्रिटिश शुगर के वित्तीय विवरण अगस्त 2020 तक वर्ष में लगभग £55m का कर-पूर्व लाभ दिखाया हैं, और सभी कंपनी निदेशकों के लिए कुल वेतन मे £600,000 से £2.6m तक बढ़ोतरी कर रही है। दूसरी तरफ 500 सदस्यों के लिए 2 प्रतिशत की वेतन वृद्धि की लागत सिर्फ £500,000 होगी। ब्रिटिश शुगर ने कहा कि, वह हड़ताल की बात से निराश है, लेकिन विश्वास है कि आने वाले हफ्तों में एक समझौता हो जाएगा। इस विवाद को जल्दी और सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझाया जाएगा।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here