कप्तानगंज चीनी मिल प्रबंधन के खिलाफ मुकदमा दर्ज

1014

कप्तानगंज (उत्तर प्रदेश): यहां के ठूठीबारी क्षेत्र के किसानों का गन्ना तौल नहीं करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने तथा सरकारी आदेश की अवहेलना करने के आरोप में कप्तानगंज चीनी मिल के प्रबंधन और तौल कर्मचारियों के खिलाफ ठूठीबारी कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

ठूठीबारी के कोतवाल छोटेलाल ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि गन्ना विकास निरीक्षक, सरकारी गन्ना विकास लिमिटेड सिसवा, प्रेमनाथ पांडेय ने यह मुकदमा दर्ज कराया है। गन्ना विकास निरीक्षक ने अपनी तहरीर में बताया है कि सरकार की ओर से ठूठीबारी क्षेत्र के किसानों का गन्ना कप्तानगंज चीनी मिल को आवंटित किया गया है तथा नियमों के मुताबिक मिल चालू होने के बाद क्षेत्र के किसानों के गन्ने की संबंधित मिल के कर्मियों द्वारा कांटा लगाकर तौल की जानी चाहिए थी। लेकिन मिल प्रबंधन की उदासीनता और कर्मचारियों की लापरवाही के कारण अभी तक सेंटर पर न तो कांटा लगाया गया और न ही गन्ना की तौल की जा रही है। इस संबंध में मिल प्रबंधन कोई संतोषजनक स्पष्टीकरण भी नहीं दे रहा है।

जागरण डॉट कॉम के मुताबिक, जिला प्रशासन ने मिल के खिलाफ केस दायर करने का आदेश दिया। आदेश पर अमल करते हुए कप्तानगंज चीनी मिल के प्रबंधन और कर्मचारियों के खिलाफ उप्र गन्ना पूर्ति खरीद विनियामक अधिनियम 1953, उप्र पूर्ति एवं खरीद विनियामक आदेश 1954 की धारा पांच के अंतर्गत धोखाधड़ी, जालसाजी, कार्य दायित्व में लापरवाही, 120बी तथा 3/7 एक्ट के तहत कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here