यदु शुगर मिल में सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

752

बदायूं : यदु शुगर मिल एक गंभीर मुश्किल में फस्ती हुई नजर आ रही है। किसानों का करोड़ों रुपये का बकाया भुगतान में बार बार विफ़ल रही यदु शुगर मिल में अब गन्ना तौल घोटाला सामने आया है। अमर उजाला डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, बिना पर्ची के धडल्ले से गन्ना तौला जा रहा था। यह मामला पकड़ में आया तो गन्ना सचिव प्रदीप कुमार वर्मा ने यदु शुगर मिल के एमडी कुणाल यादव समेत सात लोगों पर एफआईआर दर्ज कराई है। लेकिन इस बारे में मिल प्रबंधन ने हाथ खड़े कर दिए है, और उन्होंने अन्य प्रतिस्पर्धी मिलों द्वारा इसे साजिश करार दिया है। गन्ना आयुक्त के रडार पर प्रदेश की अन्य कई मिलें भी है, जिनके खिलाफ किसानों द्वारा धांधली की शिकायते मिली है।

खबर के मुताबिक, शुक्रवार को अन्य जिलों से लाया गन्ना बिना चालान पर्ची के तौला जा रहा था। ऐसे में गन्ना सचिव प्रदीप कुमार वर्मा ने छापा मारकर मौके पर गन्ने से लदी दो ट्रालियां पकड़ ली। जांच के दौरान ड्राइवर ने ये दोनों ट्राली बुलंदशहर जिले की बताई। गन्ना सचिव ने गन्ने के संबंध में चालान मांगे, तो संबंधित व्यक्ति के पास चालान ही नही थे। ऐसे में कोतवाली पुलिस बुलंदशहर जिले के गांव मोहम्मदपुर किनोरी थाना शिकारपुर निवासी परवीन पुत्र चंद्रवीर समेत तीन लोगों को थाने ले आयी। वहीं गन्ना सचिव ने यदु मिल के एमडी कुणाल यादव समेत जितेंद्र यादव, सुरेश चंद्र जौहरी, डीके श्रीवास्तव व कर्मचारी अमित तोमर, जोन इंचार्ज सोनपाल सिंह व ट्रैक्टर चालक परवीन के खिलाफ धोखाधड़ी, आवश्यक वस्तु अधिनियम सहित कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। गन्ना आयुक्त कार्यालय और पुलिस आगे की तफ्तीश में जुटी है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here