छत्रपति राजाराम चीनी मिल की वार्षिक बैठक केवल 5 मिनट में खत्म

281

कोल्हापुर: चीनी मंडी

छत्रपति राजाराम सहकारी चीनी मिल की वार्षिक बैठक केवल 5 मिनट में सभी विषयों को मंजूरी दे दी गई। इस बीच, विपक्षी समूह ने आरोप लगाया की, सत्तारूढ़ दल ने जानबूझकर बैठक 5 मिनिट में खत्म कर दी है, ताकि सत्तारूढ़ दल हमारे द्वारा पूछें जानेवाले सवालों से बच सके।

छत्रपति राजाराम मिल की वार्षिक बैठक बुधवार को आयोजित की गई थी। चीनी मिल बचाव समिति ने बैठक के पहले ही मिल प्रशासन से 16 लिखित सवाल पूछें थे और सबकी नजरें 16 लिखित सवालों पर मिल प्रशासन के जवाब पर टिकी थी।

मिल के कार्यकारी निदेशक ए. व्ही. निकम ने बैठक में सबका स्वागत किया। मिल के अध्यक्ष हरिश चौगुले ने परिचयात्मक भाषण दिया। पूर्व विधायक महादेवराव महाडिक बोलने के लिए खड़े हो गये, लेकिन उनका भाषण शुरू होने से पहले ही बैठक के लिए उपस्थित कुछ गन्ना किसानों ने उनसे 16 लिखित सवालों के जवाब की मांग की। इसपर मिल प्रशासन ने 16 सवालों का जवाब लिखित में पोस्ट द्वारा सदस्यों को भेजे जाने की बात कही, लेकिन प्रशासन के इस जवाब से किसानों को संतुष्टि नही हुई। इसी समय नितीन पारखे ने माइक्रोफोन हात में लेकर बात करना शुरू किया, तब महाडिक द्वारा उसे तुम्हे माइक किसने दिया, पूछें जानेपर बैठक में बवाल शुरू हो गया। इसी बीच सत्तारूढ़ गुट के लोग विषयों को लेकर ‘मंजूर…मंजूर…’ की घोषणा देने लगे, इस जवाब में विपक्षी समूह के लोगों ने भी सत्तारूढ़ गुट के खिलाफ जमकर नारेबाजी शुरू की और समानांतर बैठक में सत्तारूढ़ गुट के रवैय्ये का निषेध किया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here