सूखा राहत के लिए जिला प्रबंधन को मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने आदेश दिया

959

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

हिंगोली, (महाराष्ट्र) 18 मई (वार्ता) महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने जिलाधिकारी और अन्य संबंधित अधिकारियों को सूखे की स्थिति से निपटने के लिए निर्देश देते हुए कहा कि टैंकरों, कुओं, जलापूर्ति योजनाओं की मरम्मत और चारा शिविरों के लिए गाँव के सरपंचों से मिली शिकायतों पर तत्काल कार्यवाही करें।

श्री फडनवीस जिला के जिलाधिकारी और सरपंचों समेत अन्य संबंधित अधिकारियों से आज कान्फ्रेंसिंग के जरिए बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अधिकारियों के गांव के प्रमुखों की सूखा संबंधी शिकायत पर ध्यान देना चाहिए और हर संभव
मदद करनी चाहिए।

हिंगोली, कलमनूरी और शेणगांव तालुका के सूखा प्रभावित क्षेत्र घोषित किये जाने के बाद गांव की जनता और जानवरों के लिए और अधिक पेयजल की मांग की। पुरानी जल आपूर्ति व्यवस्था की जगह पर नयी जल आपूर्ति व्यवस्था की भी मांग की।

श्री फड़नवीस ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि उन जलापूर्ति योजनाओं को भी शुरू करें जो बिजली के लंबित बिलों का भुगतान न करने के कारण बंद हो गयी थी।

श्री फडनवीस ने आगे कहा कि इन तालुका में सूखे की भरपाई 1.13 लाख किसानों के खातों में 121 करोड़ रुपये स्थानांतरित किए गए हैं जबकि 7.30 करोड़ रुपये का भुगतान 18487 किसानों को फसल बीमा योजना के तहत किया गया और प्रधानमंत्री सममान योजना के तहत छोटे किसानों को पांच करोड़ रुपये की मदद की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here