कोका-कोला सिंगापुर में अपने पेय पदार्थों में कम करेगा चीनी स्तर

326

सिंगापुर: सिंगापुर स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा फ़िज़ी ड्रिंक्स और जूस के विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। मंत्रालय ने कहा है कि देश के कुछ हिस्सों में विश्व के सबसे अधिक डायबिटीज के मामले प्रकाश में आए हैं। इसे रोकने के लिए चीनी की खपत पर अंकुश लगाने के उपाय किये जा रहे हैं। इन उपायों का ब्यौरा अगले साल जारी किये जाएंगे। हाई शुगर वाले ड्रिंक्स पर स्वास्थ्य की चेतावनी देने के लिए लेबल लगाने होंगे।

सिंगापुर की यह कार्रवाई मैक्सिको और ब्रिटेन जैसे देशों के उपायों की तरह होगी। इन देशों में टेलीविजन पर दिखाए जाने वाले स्वास्थ्य और बच्चों में खाद्य एवं पेय पदार्थों से संबंधित विज्ञापनों में उच्च कैलोरी को रोकने के लिए लेबल लगाना पड़ता है और उसका खुलासा करना पड़ता है।

चीनी मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि हम सभी स्थानीय मास मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रसारण, प्रिंट, आउट-ऑफ-होम और ऑनलाइन चैनलों पर पेश किये जाने वाले उत्पाद विज्ञापनों के लिए एक गाइडलाइंस जारी करेंगे। मंत्रालय ने कहा कि सिंगापुर शराब पीने वालों और आयातकों पर कर लगाने पर भी विचार कर रहा है और यहां तक कि कुछ पेय पदार्थों की बिक्री पर भी प्रतिबंध लगा सकती है।

दुनिया की सबसे बड़ी पेय बनाने वाली कंपनी कोका-कोला कंपनी ने कहा कि वह ऐसे उपायों का स्वागत करती है और सिंगापुर में बिकने वाले अपने पेय पदार्थों में चीनी के स्तर को कम करने के लिए काम करेगी। कोका-कोला सिंगापुर और मलेशिया के कंट्री मैनेजर अहमद येहिया ने कहा कि हम अपने उत्पादों में सिंगापुर में चीनी की मात्रा को कम करेंगे। हम ऐसे प्रोडक्ट लाएंगे जो सभी के लिए अच्छा रहेगा। उन्होंने कहा कि सरकार की इस पहल से हमारे दैनिक कार्यों पर न्यूनतम प्रभाव होगा।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here