राजस्थान में राशन की चीनी के लिए तरस रहे है उपभोक्ता

242

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

जयपुर / बारन : एक तरफ पिछले 4 माह से डीलरों के गोदामों में पड़े पड़े चीनी सड़ रही है, और दूसरी तरफ उपभोक्ता राशन की चीनी के लिए तरस रहे है। राजस्थान के बारन जिले के साथ साथ अन्य कई जिलों में भी सरकार की इस लापरवाही की घटनाओं ने गरीबों को परेशान किया है। राशन से उपभोक्ता को 24 रुपए 50 पैसे में मिलने वाली चीनी बाजार में 40 रूपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदनी पड़ रही है।

गौर करने की बात यह है की, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के मंत्री रमेश मीना के प्रभार वाले बारन जिले में ही राशन की चीनी के लिए अंत्योदय परिवारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सरकार के इस रवैये से डीलरों के साथ साथ उपभोक्ता भी परेशान हैं। बारन जिले में करीब 30 हजार से ज्यादा परिवारों को अंत्योदय के तहत प्रत्येक परिवार को हर माह एक किलो चीनी दी जाती है, सबसे अधिक परेशानी किशनगंज व शाहबाद क्षेत्र में रहने वाले हजारों परिवारों को उठानी पड़ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here