कंटेनर की कमी ने फरवरी में निर्यात वृद्धि को धीमा किया

110

नई दिल्ली: आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, फरवरी में निर्यात में मामूली बढ़ोतरी हुई, साल -दर-साल पर 0.67 प्रतिशत बढ़कर 27.93 बिलियन डॉलर हो गई, जबकि व्यापार घाटा बढ़कर 12.62 बिलियन डॉलर हो गया। आपको बता दे की, फरवरी 2020 में व्यापार घाटा 10.16 बिलियन डॉलर था। आंकड़ों के अनुसार, पिछले महीने आयात भी 6.96 प्रतिशत बढ़कर 40.54 अरब डॉलर हो गया। वित्त वर्ष 2021 में अप्रैल-फरवरी के दौरान निर्यात 12.23 प्रतिशत यानि 256.1 बिलियन डॉलर हो गया। एक साल पहले इसी अवधि में निर्यात 291.87 बिलियन डॉलर हुई थी। इस समान अवधि के दौरान आयात 23.11 प्रतिशत घटकर $ 340.8 बिलियन डॉलर रही।

फरवरी के दौरान जिन क्षेत्रों में सकारात्मक निर्यात वृद्धि देखी गई, उनमें तिलहन, लौह अयस्क, चावल (30.78 प्रतिशत), कालीन (19.46 प्रतिशत), मसाले (18.61 प्रतिशत), फार्मास्यूटिकल्स (14.74 प्रतिशत), तंबाकू (7.71 प्रतिशत) , और रसायन (1.2 प्रतिशत) थे।

थोक महंगाई दर बढ़कर 27 महीने के उच्चस्तर पर..

खाद्य, ईंधन और बिजली की कीमतों में उछाल के कारण थोक मूल्य-आधारित मुद्रास्फीति लगातार दूसरे महीने बढ़कर 27 महीने के उच्च स्तर 4.17 प्रतिशत पर पहुंच गई। जनवरी में WPI मुद्रास्फीति 2.03 प्रतिशत और पिछले वर्ष फरवरी में 2.26 प्रतिशत थी। कुल मिलाकर, फरवरी में मुद्रास्फीति में व्यापक रूप से वृद्धि देखी गई, खुदरा मुद्रास्फीति जनवरी में 16 महीने के न्यूनतम 4.06 प्रतिशत से 5.03 प्रतिशत थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here