27 चीनी मिलों पर पड़ी केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की गाज

674

नई दिल्ली, 20 नवंबर: उत्तर प्रदेश की 27 चीनी मिलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) ने उनके परिसर के बाहर अनुपचारित अपशिष्ट फेकने के लिए 3 करोड़ रुपए से अधिक पर्यावरण मुआवजा (EC) लगाया है। सीपीसीबी के चेयरमैन एसपी परिहार ने इन मिलों को 15 दिन के भीतर पर्यावरण (संरक्षण) नियम, 1986 के तहत हर्जाना भरने का निर्देश दिया है।

सीपीसीबी, जिसने इस साल की शुरुआत में इन मिलों के चीनी निर्माण कार्यों को बंद कर दिया था, ने उत्तर प्रदेश राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से वैध सहमति प्राप्त करने के बाद उन्हें फिर से संचालन शुरू करने के लिए कहा है।

कुछ मिलों ने परिसर के बाहर सीवरेज का इस्तेमाल करते हुए अपने अपशिष्ट को बाहर निकाला जबकि कुछ को राज्य में पास की नदियों में मोलासेस का निर्वहन करते पाया गया था। सीपीसीबी के अधिकारियों की एक टीम द्वारा किए गए निरीक्षण के दौरान, यह देखा गया कि कई स्थानों पर अनुपचारित अपशिष्ट को संग्रहित किया गया था और डिस्चार्ज मानदंडों का उल्लंघन किया गया था।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here