राकेश टिकैत के चेतावनी के बाद चीनी मिलों के पेराई सत्र उद्घाटन कार्यक्रम में बदलाव

98

लखीमपुर खीरी : भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि, अगर केंद्रीय राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी ने लखीमपुर में मिलों का उद्घाटन किया तो किसान अपना गन्ना जिला मजिस्ट्रेट के कार्यालय में ले जाएंगे। किसान नेता टिकैत के चेतावनी के बाद, खीरी जिले के बेलरायां और संपूर्ण नगर में दो सहकारी चीनी मिलों के प्रबंधन ने मंगलवार को अपने पेराई सत्र के उद्घाटन कार्यक्रम में बदलाव किया। मिश्रा का बेटा आशीष मिश्रा 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में तिकुनिया हिंसा का मुख्य आरोपी है, जिसमें चार किसान और एक पत्रकार सहित आठ लोग मारे गए थे। आशीष मिश्रा फिलहाल जेल में हैं।

मंगलवार को जारी अपने संशोधित कार्यक्रम में दो सहकारी चीनी इकाइयों के महाप्रबंधक ने कहा, खीरी जिला मजिस्ट्रेट, जो दो चीनी मिलों के प्रशासक भी हैं, वह बुधवार को सुबह 9 बजे बेलरायां में सरजू सहकारी चीनी मिल और सुबह 11 बजे संपूर्ण नगर में किसान सहकारी चीनी मिल में किसानों और शेयरधारकों की उपस्थिति में पेराई सत्र का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को दो चीनी इकाइयों में पेराई सत्र का उद्घाटन करना था। सोमवार को लखनऊ में किसान संघों के एक छात्र निकाय संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) द्वारा बुलाई गई किसान महापंचायत में बोलते हुए, टिकैत ने कहा था, अजय मिश्रा टेनी की गिरफ्तारी हमारी महत्वपूर्ण मांग है। इस बीच, राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी के करीबी कुछ स्थानीय भाजपा नेताओं ने कहा कि, केंद्रीय मंत्री पहले से ही जिले से बाहर अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों में व्यस्त थे, जिसके कारण वह उद्घाटन समारोह के लिए उपलब्ध नहीं थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here