क्यूबा का चीनी उद्योग कर रहा है संघर्ष

341

हवाना: क्यूबा देश का आर्थिक इंजन माने जाने वाले चीनी उद्योग चीनी उद्योग वापस से खड़े होने के लिए संघर्ष कर रहा है। यहां का चीनी उद्योग कई कारणों से 1990 के दशक के दौरान ढह गया। 1959 से पहले संचालित 156 चीनी मिलों में से केवल 56 ही शेष बचे हैं और उनमें से केवल 38 मिलें 2020 -2021 सीजन में पेराई कर रही है। देश में 1970 और 1989 के बीच चीनी उद्योग के सबसे अच्छे वर्षों के दौरान 7-8 मिलियन टन उत्पादन हुआ करता था। क्यूबा का चीनी उद्योग पिछले छह दशकों में अमेरिकी वित्तीय और व्यापार जगत से काफी प्रभावित हुआ है। नए तकनीक की कमी, उर्वरक और ईंधन की कमी, वित्तपोषण में गिरावट आदि कारक चीनी उद्योग के विकास पर ब्रेक लगा रहे हैं।

2017 के तूफान ने 430,000 हेक्टेयर (एक मिलियन एकड़ से अधिक) गन्ने का सफाया कर दिया और लगभग 20 मिलों की छतों और इमारतों को बर्बाद कर दिया। जिसके परिणाम के रूप में, क्यूबा ने 2017 के बाद से प्रति वर्ष केवल 700,000 टन चीनी का उत्पादन किया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here