नाइजीरिया: डांगोट शुगर द्वारा विस्तार के लिए $1 बिलियन खर्च करने की योजना

240

अबुजा: सेंट्रल बैंक ऑफ नाइजीरिया द्वारा चीनी के तीन आयातकों में से एक बनाने के बाद डांगोट शुगर रिफाइनरी पीएलसी (नाइजीरिया) विस्तार पर $1 बिलियन खर्च करने की योजना बना रही है।

Bloombergquint.com में प्रकाशित मुख्य कार्यकारी अधिकारी रवींद्र सिंघवी ने लागोस में एक निवेशक सम्मेलन में कहा की, कंपनी ने 100,000 हेक्टेयर से अधिक भूमि गन्ने के खेती के लिए तैयार की है। सिंघवी ने कहा कि, नाइजीरिया के उत्तरी राज्यों अदमावा और नसरवा में बागान 2023 तक तैयार हो जाएंगे, जबकि अदमवा में एक चीनी मिल की क्षमता को लगभग दोगुना करके 6,000 टन गन्ना-पेराई प्रति दिन करने का काम चल रहा है।

डांगोट फर्म की योजना 2024 तक सालाना रिफाइंड चीनी की क्षमता 1.5 मिलियन से 2 मिलियन टन तक बढ़ाने की है, जो जून तक 403,846 टन थी। गन्ने के बागान डांगोट चीनी को स्थानीय रूप से इनपुट स्रोत, उत्पादन को बढ़ावा देने और बिक्री में वृद्धि करने में सक्षम बनाएंगे क्योंकि नाइजीरिया का लक्ष्य विदेशी मुद्रा के संरक्षण के लिए चीनी के आयात को समाप्त करना है।

सेंट्रल बैंक ऑफ नाइजीरिया ने अप्रैल में कहा था कि, वह गेहूं और चीनी के आयात के लिए विदेशी मुद्रा आपूर्ति में कटौती करेगा, लेकिन पिछले महीने केवल डांगोट शुगर और दो अन्य फर्मों को कच्चे माल की स्थानीय सोर्सिंग में हुई प्रगति का हवाला देते हुए उत्पाद आयात करने की अनुमति दी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here