‘जिसका माल, उसके मजदूर’ पर होगा दो महीनों में फैसला …

245

कोल्हापुर: चीनी मंडी

कोल्हापुर डिस्ट्रिक्ट लॉरी असोसीएशन द्वारा लागू किये गए ‘जो माल की ढुलाई करेगा, मजदूर/ कुली भी उसके’ इस नये नियम पर दो महीनों में फैसला लेना का आश्वासन जिलाधिकारी दौलत देसाई ने दिया। कोल्हापुर डिस्ट्रिक्ट लॉरी असोसीएशन की समस्या को हल करने के लिए रविवार को जिला कलेक्टर कार्यालय में एक बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक में जिलाधिकारी देसाई ने नये नियम लागू करने के बारे में कोल्हापुर डिस्ट्रिक्ट लॉरी असोसीएशन को आश्वस्त किया।

नए नियम की वजह से कोल्हापूर, सांगली और कराड में चीनी की आपूर्ति पर असर पड़ सकता है। इस बीच, कोल्हापुर डिस्ट्रिक्ट लॉरी असोसीएशन के अध्यक्ष सुभाष जाधव ने जिलाधिकारी देसाई के आश्वासन के बाद लॉरी ऑपरेटर्स एसोसिएशन द्वारा आंदोलन स्थगित करने की घोषणा की। इस समय, चीनी मिलों के प्रतिनिधियों ने स्वीकार किया कि, माल ढुलाई ट्रक धारकों का नहीं, बल्कि चीनी मिलों का काम है। उन्होंने कहा की, अक्टूबर में चीनी ढुलाई की निविदा निकाली जाएगी, उस समय, चीनी भरने के सवाल को हल किया जाएगा। राजाराम चीनी मिल के कार्यकारी निदेशक पी. जी. मेढ़े ने ट्रक धारकों की मांग को उचित बताया।

कोल्हापुर जिला लॉरी ऑपरेटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष जाधव ने स्पष्ट किया की, 6 सितंबर 2016 को, एक सरकारी आदेश जारी किया गया था, जिसमें कहीं भी माल ढुलाई का ट्रक धारकों द्वारा भुगतान का कोई उल्लेख नहीं किया गया। इस बैठक में माल यातायात भाड़ा बढ़ाने का भी निर्णय लिया गया।

पुलिस अधीक्षक डॉ अभिनव देशमुख, रेजिडेंट डिप्टी कलेक्टर संजय शिंदे, सहायक श्रम आयुक्त अनिल गुरव, कोल्हापुर-सांगली-कराड शुगर ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष विजयभाई शाह, ग्रेन मर्चेंट्स एसोसिएशन के प्रदीपभाई शाह, उप्पल शाह, नयन प्रसादे, नितिन सवार्डेकर, अमित खटावकर, हेमंत डिस्ले, प्रकाश केसरकर, शिवाजी चौगले, लालसाहेब पाटिल, प्रकाश भोसले, सतीश धनाल, युवराज माने, युवराज पाटिल, दिनकर पाटिल उपस्थित थे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here