मोरना चीनी मिल की पेराई क्षमता बढ़ाने की मांग

336

मोरना: गन्ना किसानों के अतिरिक्त गन्ने की पेराई मोरना चीनी मिल में संभव नहीं हो पा रही है। इस मिल से जुड़े किसानों दावा है की उन्हें बड़ी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। किसानों की इस समस्या को लेकर भाजपा के कुछ नेता गन्ना मंत्री से मिले और मोरना चीनी मिल की पेराई क्षमता को बढ़ाने की मांग की। उन्होंने मंत्री को एक ज्ञापन सौंपा जिसमें मिल की पेराई क्षमता 50 हजार प्रति क्विंटल करने की मांग की गई है। उसमें यह भी कहा गया है कि मोरना चीनी मिल में यदि अधिक गन्ना आ रहे हैं तो उन्हें किसी और मिल को आवंटित किया जाए ताकि किसानों को नुकसान न पहुंचे।

गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने नेताओं के साथ बैठक के बाद राज्य के गन्ना आयुक्त को आदेश दिया कि वे मोरना चीनी मिल के अतिरक्त गन्ने को किसी और मिल को आवंटित करे। खबरों के मुताबिक, राणा ने इस अवसर पर कहा कि आगामी 12 फरवरी को पीआईबी की बैठक होने वाली है और इस बैठक में मोरना चीनी मिल की पेराई क्षमता बढ़ाने और मिल के विस्तारिकरण पर चर्चा की जाएगी। मोरना चीनी मिल के विस्तारीकरण का प्रस्ताव मिल के प्रबंधकों ने भी किया है। गन्ना मंत्री के साथ हुई मिटिंग में भाजपा प्रदेश नमामि गंगे के डा. वीरपाल निर्वाल के साथ कई अन्य अधिकारी और किसान उपस्थित रहे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here