जिले में नयी चीनी मिल लगाने की मांग…

479

लखनऊ / कुशीनगर : चीनी मंडी

कुशीनगर जिले में सर्वाधिक क्षेत्र में गन्ने का उत्पादन किया जाता है और गन्ना किसानों द्वारा कई सालों से चीनी मिल की मांग की जा रही है। जिले में कुछ ऐसी भूमि है जो इस कार्य में इस्तेमाल करके कुशीनगर जनता की मांग को पूरा किया जा सकता है। इसीके चलते कुशीनगर जिले में चीनी मिल लगाने के लिए भाजपा नेत्री सुनीता गौड़ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। प्रदेश में पिछले कुछ सालों में गन्ने का रिकोर्ड स्तर पर उत्पादन हो रहा है, और पेराई के वक्त किसानों को कई महीनों तक मिल को गन्ना ले जाने के लिए राह देखनी पडती है। इस समस्या से बचने के लिए और गना किसानों का जीवन खुशहाल बनाने के लिए चीनी मिल की बहुत जरूरत है।

विदित है कि जब देवरिया जिले था तभी गन्ना की बुआई अधिक क्षेत्रफल में होने के कारण पडरौना गन्ना जिला बना था। यानि देवरिया जिले में गन्ने के दो जिले बने थे। इस जिले में नौ चीनी मिलें लगी थी। जिसमें सेवरही, कटकुईयां, पडरौना ,रामकोला खेतान, रामकोला त्रिवेणी, लक्षमीगंज, कप्तानगंज, खड्डा, छितौनी सथापित थी। जिसमें कटकुईयां और पडरौना चीनी मिल व्रिटिश इंडिया कार्पोरेशन की लगी थी, जो बंद हो गई। मिलें बंद होने से सबसे ज्यादा तकलीफ किसानों को हो रही है, और इसी लिए कुशीनगर में मिल का होना कितना जरूरी है, यही बात सुनीता गौड ने खत के जरिये योगी आदित्यनाथ के सामने रखी है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here