गन्ना किसानों के लिए विभाग ने नियमों को किया कड़ा

1065

रुड़की: गन्ना किसानों को अब उनकी तारीख पर ही चीनी मिल में गन्ने का वजन करना होगा। गन्ने का वजन यदि निर्धारित वजन से अधिक होगा तो उसे अगले दौर में एडजस्ट किया जाएगा। गन्ना विभाग ने गन्ने की अधिकता और चीनी मिल में पेराई सत्र में संशय के चलते यह फैसला किया है।

गन्ना विभाग ने किसानों को पर्ची दी है। विभाग का कहना है कि किसान इसी पर्ची के दिन अपना गन्ना लेकर आएं। ताकि भीड़ जमा न हों। मिल में पर्ची के अनुसार ही तौल की जाएगी।

इस बीच, गन्ना विभाग ने इकबालपुर चीनी मिल के 50 गन्ना क्रय केंद्रों को दूसरी चीनी मिलों को वितरित कर दिया है क्योंकि इकबालपुर चीनी मिल में उत्पादन रूका है। एक निजी न्यूज़ वेबसाइट से बात करते हुए सहायक गन्ना आयुक्त शैलेंद्र सिंह ने कहा कि अब सीजन के बीच में किसी भी किसान की पर्ची ट्राली या मिनी ट्राली आदि में परिवर्तित नहीं की जाएगी। साथ ही किसान को निर्धारित तिथि पर ही तोल कराना होगा।

श्री सिंह ने कहा कि किसानों को वजन कराने के लिए एसएमएस से सूचित किया जाएगा। यदि कोई किसान निर्धारित वजन से अधिक गन्ना लाता है तो उस अतिरिक्त गन्ने को दूसरी पर्ची में शामिल किया जाएगा। विशेष सहायता के लिए चीनी मिलों में सहायता केंद्र खुले हैं।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here