औरंगाबाद: संभागीय गन्ना आयुक्त ने पैठण तालुका में किया अचानक दौरा

279

औरंगाबाद : चीनी मंडी

संभागीय गन्ना आयुक्त सुनील केंद्रेकर ने पैठण तालुका का अचानक दौरा किया, इस दौरे में उन्होंने कातपुर, करंजखेडा, रहटगांव, आखातवाडा के गन्ना किसानों से बातचीत की और फसल का जायजा लिया। उन्होनें मुख्य रूप से तालुका में गन्ना उत्पादकों के साथ चर्चा की और वर्तमान में किसानों द्वारा इस्तेमाल किये जानेवाले गन्ना जल प्रबंधन विधि और कृषि से जुड़े अन्य मसलों पर अपनी बात रखी। इस अवसर पर कृषि अधिकारी रामेश्वर भूते, मंडल कृषि अधिकारी विशाल साल्वे, रामनाथ करले, कृषि पर्यवेक्षक वसंत कताबने, किशोर पडले, यशवंत चौधरी, राजू गावडे सहित सभी चारों गावों के गन्ना किसान मौजूद थे।

केंद्रेकर ने कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस को रिपोर्ट सौपी थी, जिसमें उन्होंने सूखाग्रस्त मराठवाडा में गन्ना फसल पर पाबंदी लगाने का सुझाव दिया था। मराठवाडा इलाके में 64 चीनी मिलें है और गन्‍ना फसल से लगभग डेड लाख किसान सीधे जुडे है। मराठवाडा में 3 लाख 13 हजार हेक्टेयर पर गन्‍ने खेती होती है। अगर गन्‍ना खेती पर पाबंदी लगाई जाती है, तो मराठावाडा में पानी की काफी बचत होने का दावा किया जा रहा है।

संभागीय आयुक्‍त द्वारा की गई शिफारीश…
सरकार को मिलों को क्रशिंग लायसन्स नही देना चाहिए, 100 प्रतिशत ड्रीप सिंचाई करने वाले मिलों को ही केवल क्रशिंग लायसन्स मिले, नदी से गन्‍ने को पानी देने पर पाबंदी जरूरी.

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here