मत जाओ…किसानों की मजदूरों को रहने की गुजारिश

4722

जालंधर, पंजाब: कई राज्यों से जो गन्ना कटाई मजदूर नवंबर में यहां आए थे और अप्रैल तक निकलने वाले थे, अब लॉकडाउन के कारण यहां फंसे हुए हैं। पिछले दो महिनों से मजदूर अपने गाँव को लौट नही पाए है, और उन्हें अब अपने गाँव को लौटना है। अगर यह मजदूर अपने गांव को लौट गये, तो फिर वापस आने की गुंजाइश कम है। इसीलिए स्थानीय किसान अब धान के सीजन के नजदीक आने के मद्देनजर गन्ना मजदूरों को गाँव वापस न जाने की अपील कर रहे है।

स्थानीय किसान कुलवंत सिंह ने कहा कि, उन्होंने अपने 15 मजदूरों को वापस न जाने के लिए मना लिया था। इससे पहले, वे भी जाना चाहते थे और यहां तक कि श्रमिक ट्रेनों में पंजीकरण के लिए भी हमसे संपर्क किया, लेकिन चूंकि उन्हें अभी तक कोई संदेश नहीं मिला है, इसलिए उन्होंने वापस रहने और यहां फिर से काम शुरू करने का मन बना लिया है। एक अन्य किसान सुखवंत सिंह ने कहा, “मैं उन्हें अग्रिम देना चाहता हूं ताकि वे धान के मौसम तक यहां रहें। यह किसानों के लिए मजदूरों की कमी एक कठिन स्थिति है और हर कोई यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी पूरी कोशिश कर रहा है कि मजदूर यहां रहें और उन्हें (किसानों को) धान के मौसम में कोई समस्या न झेलनी पड़े।”

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here