पंजाब में गन्ना भुगतान का मुद्दा गरमाया

205

चंडीगढ़ : पंजाब में गन्ना बकाया भुगतान को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। गन्ना बकाया भुगतान को लेकर पंजाब कांग्रेस में घमासान जारी है। कांग्रेस सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को लिखे पत्र द्वारा गन्ना किसानों के बकाया भुगतान का मुद्दा उठाया, जिसके बाद बुधवार को पंजाब के स्थानीय निकाय और संसदीय मामलों के मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने उनसे कहा कि, मुख्यमंत्री को पत्र लिखने के बाद उन्हें जल्दबाजी में मीडिया से रूबरू होने की कोई जरूरत नही थी। उन्होंने कहा की, जब तक आपके द्वारा उठाए गए जनहित के मुद्दे पर मुख्यमंत्री द्वारा कोई फैसला नही होता है, तबतक मीडिया तक पहुँचने की जल्दबाज़ी करने की कोई भी जरूरत नही थी।

मोहिंद्रा ने कहा की, बाजवा को सार्वजनिक हित के मुद्दों को उठाने का पूरा अधिकार था, लेकिन हमेशा कुछ चीजों को करने का एक “उचित तरीका” होता है।बाजवा ने मंगलवार को पंजाब में अपनी पार्टी की सरकार पर गन्ना किसानों को 681.48 करोड़ रुपये का बकाया भुगतान के लिए ठोस कदम नहीं उठाने का आरोप लगाया था। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में, बाजवा ने दावा किया था कि सहकारी और निजी चीनी मिलों द्वारा 2018-19 और 2019-20 सत्रों के लिए लगभग 70,000 गन्ना किसानों को 681.48 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं किया गया है। मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने बुधवार को कहा कि, यह अच्छा है कि आप जनहित के मुद्दों के लिए झंडा गाड़ रहे हैं, लेकिन मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र सीधे मुख्यमंत्री तक पहुंचना चाहिए और न की मीडिया के पास। आपका उद्देश्य वास्तव में कुछ और हो सकता है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here