“चीनी मिल मालिकों को जेल की हवा खानी पड़ेगी”

988

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

लखनऊ : चीनी मंडी

उत्तर प्रदेश में गन्ना बकाया भुगतान सत्ताधारी भाजपा के लिए मुसीबत बनी हुई है, भुगतान को लेकर किसानों में आक्रोश है और यह आक्रोश चुनाव में अपने खिलाफ न जाए इसलिए योगी आदित्यनाथ ने चीनी मिलों सख्ती से निपटने का फैसला किया है। प्रदेश में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चेतावनी दी है की, समय पर गन्ना मूल्य भुगतान किसानों को नहीं किया गया तो मिल मालिकों को जेल की हवा खानी पड़ेगी। मुख्यमंत्री के इस कड़े तेवर के बाद तरलता के संकट से परेशान चीनी उद्योग में खलबली मची है।

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया की, मायावती सरकार ने 21 चीनी मिल ही बेच दिया और इसमे बड़े पैमाने पर घोटाला हुआ। जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी महज दो वर्ष में 65 हजार करोड़ रुपये गन्ना मूल्य का भुगतान कराया गया है। योगी ने यह भी दावा किया की, किसानों का हित हमारी पहले से प्राथमिकता है और हमेशा रहेगी। गन्ना किसानों का समय पर भुगतान हो, इसलिए सरकार हर मुमकिन कोशिश कर रही है। उन्होंने यह भी दावा किया की, निर्यात सब्सिडी, सॉफ्ट लोन, चीनी की न्यूनतम बिक्री मूल्य में बढ़ोतरी जैसे कदम चीनी मिलों के लिए कारगर साबित हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here