इस कंपनी ने शुगर रिडक्शन टेक्नोलॉजी के लिए 153 करोड़ फंड जुटाए…

795

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

तेल अवीव : इजरायल के स्टार्टअप डौक्समाटोक ने घोषणा की कि उसने अपनी चीनी कटौती प्रणाली (शुगर रिडक्शन टेक्नोलॉजी) के लिए तकरीबन $22 मिलियन (153.51 करोड़) सीरीज़ बी की फंडिंग में जुटाई है। इसका नेतृत्व ब्लूड पार्टनर्स द्वारा किया गया था, जिसमें सुजुदुकर एजी, रॉयल डीएसएम और सिंघा वेंचर्स के रणनीतिक निवेश थे। डौक्समाटोक द्वारा कुल 30.2 मिलियन डॉलर (210.74 करोड़) की राशि जुटाई गई है।

पिछले कुछ वर्षों में चीनी के इस्तेमाल पर गंभीरता से विचारविमर्श चल्र रहा है क्योंकि विशेषज्ञों का मानना है की चीनी के अधिक मात्रा में सेवन करने से उसका शरीर पर हानिकारक प्रभाव दिखाई दे रहा है। खाने में चीनी विकल्प बनाने के बजाय, डौक्समाटोक का लक्ष्य है कि पहले से ही लोग अधिक कुशल चीनी का उपभोग करें। डौक्समाटोक एकमात्र कंपनी नहीं है जो न्यूट्रीशन इनोवेशन के लिए न्यू-इन्फ्रारेड तकनीक और एक अलग शोधन प्रक्रिया का उपयोग करता है, जिसमें नूकेन होता है, जो चीनी के खनिजों को बनाए रखता है और इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। कैंडी कंपनी नेस्ले ने अपनी मिठाई के साथ सूक्ष्म छिद्रों के माध्यम से चीनी की संरचना को बदलकर प्रयोग किया है ताकि कम उपयोग किया जा सके।

प्रेस घोषणा के अनुसार, डौक्समाटोक आरोग्यदायी उत्पादन और बिक्री के लिए नए फंडिंग का उपयोग करेगा, जिससे उनका यूरोप और उत्तरी अमेरिका में व्यवसाय तेजी से बढ़ सके। कंपनी का कहना है कि, वह जल्द ही यूरोप में अपनी चीनी का विनिर्माण पूरा कर लेगी, जो निवेशक सुजुदुकर एजी के साथ साझेदारी में किया गया है। डौक्समाटोक अपने उत्पादों में सुधार करने के लिए कई खाद्य कंपनियों के साथ भी चर्चा कर रहा है। डौक्समाटोक को इस वर्ष के अंत तक अपनी चीनी की व्यावसायिक उपलब्धता की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here