भारतीय चीनी के कारण दुबई की अल खलीज शुगर रिफाइनरी ने उत्पादन कर दिया बंद…

1040

 

हि बातमी ऐकण्यासाठी इमेज खालील बटन दाबा.

अबू धाबी : दुनिया की सबसे बड़ी बंदरगाह-आधारित दुबई की चीनी रिफाइनरी, अल खलीज शुगर ने हाल ही के महीनों में फिर से कम मुनाफे के चलते चीनी उत्पादन को रोक दिया है। मध्य दिसंबर से लेकर फरवरी की शुरुआत तक भारत द्वारा वैश्विक बाजार में चीनी की निर्यात के कारण अल खलीज द्वारा उत्पादित चीनी की मांग काफी कम हुई है। जिससे अल खलीज शुगर का मुनाफा काफी घट गया है, इसीलिए कंपनी ने उत्पादन कुछ समय के लिए बंद कर दिया है।

कंपनी द्वारा यह कदम रमजान त्योहार से ठीक पहले उठाया गया है, जब चीनी का सेवन सबसे ज्यादा मात्रा में होता है। 2003 के बाद से इस साल सफेद चीनी के प्रीमियम के साथ साथ रिफाइनिंग मुनाफा भी गिर गया है। जिससे कंपनी की चिंता बढ़ गई है। थाईलैंड से भारत तक गन्ने की बंपर फसल के कारण वैश्विक बाजार में अतिरिक्त आपूर्ति और कम मांग के चलते चीनी के कीमत पर दबाव बना हुआ है। केंद्र सरकार ने चीनी निर्यात के लिए सब्सिडी दी है जो भारत को अपनी चीनी को विश्व बाजार में भेजने में मदद कर रहा हैं। उसकी वजह से अल खलीज सहित कई रिफाइनर प्रतिस्पर्धा करने में नाकाम साबित हो रहे है। हाल के वर्षों में,कड़ी प्रतिस्पर्धा की वजह से अल खलीज शुगर ने इराक सहित कुछ महत्वपूर्ण बाजारों को भी खो दिया है, जहां एतिहाद रिफाइनरी खोली गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here