इस कारण चीनी मिल पर मुकदमा दर्ज

957

 

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

बदायूं : गन्ना बकाया भुगतान को लेकर योगी सरकार ने चीनी मिलों पर सख्त रवैय्या अपनाया है। किसानों का बकाया भुगतान न करने के साथ ही घटतौली और अन्य अनियमितताओं के चलते यदु शुगर मिल पर कानूनी शिकंजा कसा गया है। प्रशासन की तमाम कोशिशों को नजर अंदाज करने पर चीनी मिल पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। जिला गन्ना अधिकारी के आदेश पर दर्ज हुई रिपोर्ट में निदेशक समेत दो लोगों को नामजद किया है। धोखाधड़ी, घटतौली की धाराओं में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है।

अभी तक पेराई सत्र 2018-19 का भुगतान चीनी मिल की ओर से किसानों को नहीं किया गया है। यदु शुगर मिल प्रबंधन ने न तो पिछले पेराई सत्र का भुगतान किया और न ही इस पेराई सत्र का कोई भुगतान किसानों को किया। 108 करोड़ से ज्यादा बकाया होने पर जिला प्रशासन ने कई बार चीनी मिल प्रबंधन को  चेतावनी दी। मगर, चीनी मिल प्रबंधन लगातार प्रशासन के आदेशों को नजर अंदाज करता रहा। डीएम ने भी तमाम सख्ती दिखाई, लेकिन उनकी सख्ती का भी कोई असर नहीं हुआ। बुधवार को जिला गन्ना अधिकारी रामकिशन के आदेश पर नीरेन्द्र कुमार, सचिव प्रभारी, सहकारी गन्ना विकास समिति लिमिटेड ने बिसौली पुलिस को तहरीर दी। तहरीर में बताया गया कि, डीएम की ओर से टैगिग आदेश का पालन न करने के साथ ही किसानों का बकाया भुगतान न करने और चीनी बिक्री से प्राप्त धनराशि व्यावर्तन किए जाने पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया जाए। पुलिस ने तहरीर के आधार पर यदु चीनी मिल के अध्यासी निदेशक सुरेश चन्द्र जौहरी मुख्य वित्त अधिकारी यदु शुगर मिल डीके श्रीवास्तव के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3/7 सहित भारतीय दंड संहिता की धाराओं में एफआइआर दर्ज की। जिला गन्ना अधिकारी ने बताया कि जल्द ही आरोपितों की गिरफ्तारी के साथ ही चीनी मिल कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी। किसानों का हक उनको दिलाया जाएगा।

डाउनलोड करे चीनीमंडी न्यूज ऐप:  http://bit.ly/ChiniMandiApp  

SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here