इस कारण यहां सस्ते दामों में बेची जा रही है चीनी…

970

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

ढाका: बांग्लादेश के गाईबंधा जिले की सरकार के स्वामित्व वाली रंगपुर चीनी मिल नकदी संकट से उबरने की संभावना में है, क्योंकि मिल प्रबंधन ने 4,500 टन चीनी स्टॉक को कम दाम पर बेचना शुरू कर दिया है। बकाया वेतन, बिलों का भुगतान करने के लिए मिल प्रबंधन ने यह बड़ा कदम उठाया है।

मिल के प्रबंध निदेशक अन्वर हुसैन अकांडा ने कहा कि, सरकार के नियामक प्राधिकरण बांग्लादेश शुगर एंड फूड इंडस्ट्रीज कॉरपोरेशन ने राज्य के सभी स्वामित्व वाली चीनी मिलों को प्रत्येक किलोग्राम 5 TK (बांग्लादेशी करन्सी) से चीनी की कीमत कम करने की अनुमति देने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि, यह निर्णय देश भर की विभिन्न चीनी मिलों में लगभग एक लाख टन चीनी की बिक्री को गति देने के लिए लिया गया था।

रंगपुर चीनी मिल के पास गन्ना किसानों का 11.5 करोड़ TK और अपने कर्मचारियों का दिसंबर 2018 के बाद से लगभग 6 करोड़ TK वेतन बकाया है। सरकार द्वारा संचालित चीनी मिलें तरलता या नकदी प्रवाह से पीड़ित हैं, क्योंकि वे 50 TK प्रति किलोग्राम के हिसाब से चीनी बेच रहे थे जबकि आयातित अच्छी चीनी TK 42 से 43 रुपये किलो है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here