कुशीनगर इलाके में रेड राट का प्रभाव, गन्ना फसल क्षतिग्रस्त…

93

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में रेडराट के प्रभाव से गन्ना फसल काफी क्षतिग्रस्त हो गई है, जिसमें सबसे ज्यादा नुकसान पूर्वाचल में चीनी का कटोरा कहे जाने वाले कुशीनगर के किसानों का हो रहा है। जागरण में प्रकाशित खबर के मुताबिक, यहां रेडराट के फैलाव से 260 करोड़ से ज्यादा का गन्ना बर्बाद हुआ है। जिले में इस साल 87868 हेक्टेयर में गन्ने की फसल की बोआई हुई थी, जिसमें 10437 हेक्टेयर फसल रेड राट से बर्बाद हुई। किसानों को काफी नुकसान हुआ। ऐसे हालातों में किसान राज्य सरकार से मदद की उम्मीद लगायें हुए है। गन्ने की फसल का सर्वाधिक नुकसान पहुंचाने वाला रेडराट (लाल सड़न रोग) है।

गन्ने की प्रजाति को.0238 सर्वाधिक प्रभावित हुई है। इसके अलावा रूट राट (तना वेधक) से 1861 हेक्टेयर व शूट बोरर (जड़ वेधक) से 972 हेक्टेयर फसलों का नुकसान हुआ। गन्ना विभाग इस समस्या से बचने के लिए किसानों में जागरूकता फ़ैलाने का काम कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here