मिस्र ने तीन महीने के लिए चीनी आयात पर लगाया प्रतिबंध

122

कैरो : घरेलू चीनी उद्योग को रहत देने के लिए मिस्र के व्यापार और उद्योग मंत्री निवेन गेमे ने गुरुवार को तीन महीने की अवधि के लिए सफेद और कच्ची चीनी के आयात पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है। जो चीनी फार्मास्यूटिकल्स उत्पादन के लिए आयात की जाती है, उसे आयात प्रतिबंध से बाहर रखा है, लेकिन उसके आयात के लिए बशर्ते स्वास्थ्य मंत्रालय की मंजूरी जरूरी है। मंत्रालय ने कहा कि, कच्ची चीनी के आयात की अनुमति केवल व्यापार और उद्योग के मंत्रालयों के अनुमोदन से ही दी जाएगी।

गेमे ने कहा कि, वैश्विक चीनी की कीमतों में उतार-चढ़ाव के चलते राष्ट्रीय उद्योग की रक्षा के उद्देश्य से आपूर्ति और आंतरिक व्यापार मंत्रालय के समन्वय में आदेश जारी किया गया था। विशेष रूप से वैश्विक मंदी के परिणामस्वरूप कच्चे तेल और चीनी की कीमतों में गिरावट आई थी। गेमे ने कहा की, कोरोना वायरस ने मिस्र के राष्ट्रीय उद्योग को काफी नुकसान पहुंचाया। आपूर्ति और आंतरिक व्यापार मंत्री अली मोसेली ने कहा कि, पिछली अवधि में चीनी के आयात में भारी वृद्धि हुई थी, जो ओवरस्टॉकिंग का कारण बनी। उन्होंने बताया कि मिस्र की कुल चीनी खपत सालाना 3.2 मिलियन टन तक पहुंच जाती है, जिसमें घरेलू स्तर पर 2.4 मिलियन टन का उत्पादन शामिल है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here