आबकारी विभाग द्वारा अवैध मदिरा के विरूद्ध की गयी प्रवर्तन कार्यवाही

194

लखनऊ: श्री संजय आर भूसरेड्डी, प्रमुख सचिवए आबकारी विभाग द्वारा बताया गया नोवेल करोना वायरेस (कोविड.19) संक्रमण के दृष्टिगत देश व्यापी लाकडाउन के कारण आबकारी दुकानों का संचालन नही हो रहा था, जिससे अवैध मदिरा के निर्माण तथा बिक्री की सम्भावना अत्याधिक बढ़ गयी थी, जिससे जनहानि की अत्याधिक सम्भावना थी। मुख्य मंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा कड़े निर्देश दिये गये हैं कि अवैध मदिरा के व्यापार को रोका जाय तथा दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। अवैध मदिरा के व्यापार को रोकने के लिए प्रदेश में दिनांक 25ण्03ण्2020 से निरन्तर विशेष प्रवर्तन अभियान चलाये जाने के विस्तृत निर्देश जनपदीय अधिकारी को निर्गत किये गये । उक्त अभियान के दौरान दिनांक 25.03.2020 से 10.05.2020 तक प्रदेश के समस्त जनपदों में 7152 अभियोग पकडे़ गये एवं 178656.2 लीटर अवैध मदिरा जब्त की गयी है। अवैध मदिरा के कारोबार में संलिप्त 970 व्यक्तियों को जेल भेजा गया तथा 67 वाहन भी जब्त किये गये है। पकड़े गये अपराधियों एवं जब्त किये गये वाहनों के के विरूद्ध आबकारी अधिनियम एवं भारतीय दण्ड संहिता तथा मोटर व्हेकिल एक्ट की संगत धाराओं के अंतर्गत अभियोज पंजीकृत किये गये ।

प्रमुख सचिव आबकारी श्री संजय आर भूसरेड्डी द्वारा यह भी बतया गया कि प्रदेश में अवैध मदिरा के कारोबार को पूर्ण रूप से नियंत्रित करने के लिए विभाग को अनवरत अभियान चलाने तथा अवैध मदिरा के निर्माण, बिक्री परिवहन एवं तस्करी को किसी भी स्थिति में शत प्रतिशत नियंत्रित करने के निर्देश दिये है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here