युगांडा राष्ट्रपति द्वारा इथेनॉल इकाई का उद्घाटन

281

न्वोया (कंपाला) : युगांडा के राष्ट्रपति योवेरी मुसेवेनी ने भारतीय प्रोपराइटर और मैनेजिंग डायरेक्टर प्रवीण क्रेकाल द्वारा लपेम गाँव में स्थापित बुकोना एग्रो-प्रोसेसर शुगर मिल और डिस्टलरी का उद्घाटन किया। राष्ट्रपति ने मिल द्वारा स्थापित हरित ईंधन युगांडा परियोजना का भी शुभारंभ किया, ई-स्टोव जो कसावा से प्राप्त इथेनॉल द्वारा चलेगा। ई-स्टोव को स्वच्छ, सुरक्षित, किफायती, पर्यावरण के अनुकूल और उत्सर्जन-मुक्त बनाया गया है। दस साल तक चलने की गारंटी वाला ई-स्टोव Shs (शिलिंग) 250,000 में बेचा जाएगा।

राष्ट्रपति मुसेवेनी ने कहा, युगांडा अब कसावा से बने ईंधन को अन्य देशों में निर्यात करने में सक्षम होगा। उन्होंने किसानों से परियोजना की निरंतरता के लिए कसावा उगाने और अपनी आजीविका में सुधार करने के लिए मिल मालिकों के साथ हाथ में हाथ मिलाकर काम करने का आवाहन किया। उन्होंने कहा, किसान पशु आहार बनाने के लिए कसावा अवशेषों का भी उपयोग कर सकते हैं। परंपरागत रूप से हम मक्का के अवशेषों के साथ खाना बनाते थे। हम मक्का का उत्पादन करेंगे, सिल को काटेंगे और बाकी हिस्सों को पकाने के लिए इस्तेमाल करेंगे। लेकिन अब हम कसावा प्राप्त कर सकते हैं और इससे पेट्रोल निकाल सकते हैं। यह उत्पाद इस जिले के लोगों को गरीबी से बाहर निकालने में मदद कर सकता है।

प्रवीण क्रैकाल ने कहा कि, 5.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर मूल्य के मिल को एक दिन में लगभग 70 टन और मासिक 2,000 टन कसावा की आवश्यकता होगी। मिल द्वारा ताजा और सूखे कसावा दोनों को खरीदा जाएगा। ताजा कसावा shs.180, 000 प्रति टन और सूखी shs.780,000 प्रति टन पर खरीदा जाएगा। व्यापार, उद्योग और सहकारिता मंत्री,अमेलिया क्यूमबड़े ने कहा कि, इथेनॉल परियोजना यहाँ के लोगों की आजीविका में सुधार करने में सक्षम है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here