देश में एथेनॉल का उत्पादन 2013-14 में 38 करोड़ लीटर से बढ़कर 2020-21 में 302 करोड़ लीटर हुआ

90

नई दिल्ली : देश में एथेनॉल का उत्पादन 2013-14 में 38 करोड़ लीटर से बढ़कर 2020-21 में 302 करोड़ लीटर हो गया है। यह जानकारी खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग (डीएफपीडी) में संयुक्त सचिव (चीनी) सुबोध कुमार सिंह ने दी।

Zeebiz.com में प्रकाशित खबर के मुताबिक, सिंह मध्य प्रदेश में एथेनॉल परियोजनाओं की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। मध्य प्रदेश में प्रति वर्ष लगभग 62.54 करोड़ लीटर की उत्पादन क्षमता वाली 16 परियोजनाओं पर काम चल रहा है। संयुक्त सचिव सुबोध कुमार सिंह ने कहा कि, एथेनॉल उत्पादन के लिए नई डिस्टिलरीज के लिए डीएफपीडी की सैद्धांतिक मंजूरी अनिवार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि मंजूरी केवल विभाग की ब्याज सबवेंशन योजना से संबंधित है।

उन्होंने कहा कि, सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि एथेनॉल उत्पादन लक्ष्य को पूरा करने के लिए सभी सुविधाएं प्रदान की जाए और यह ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ का हिस्सा है। उत्तर प्रदेश में एथेनॉल परियोजनाओं को लेकर शुक्रवार को समीक्षा बैठक हुई। बैठक में परियोजनाओं स्थिति का जायजा लिया गया। उत्तर प्रदेश में कई नई डिस्टिलरी अगले एक साल में उत्पादन शुरू करने वाली हैं। एथेनॉल आपूर्ति वर्ष (ESY) 2020-21 के दौरान, उत्तर प्रदेश ने 106 करोड़ लीटर से अधिक एथेनॉल की आपूर्ति की, जो देश में उत्पादित कुल एथेनॉल का 35 प्रतिशत से अधिक हिस्सा है। सिंह ने समीक्षा बैठक के दौरान उत्तराखंड में आगामी एथेनॉल परियोजनाओं की भी समीक्षा की। बैठक के दौरान यह भी कहा गया कि, बैंकों से परियोजना को ऋण की मंजूरी में तेजी लाने का अनुरोध किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here