इथेनॉल उत्पादन परियोजना से बिहार में रोजगार के अवसर पैदा होगें: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

224

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में इथेनॉल उत्पादन को बढ़ावा देने के तरीकों पर सोचविचार करने के लिए गुरुवार को एक बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में उन्होंने कहा कि, सरकार राज्य में बंद चीनी मिलों को फिर से शुरू करने के लिए कदम उठाएगी। यह क्षेत्र कई निवेशकों को आकर्षित करेगा, जो बदले में, रोजगार पैदा करेगा। राज्य में इथेनॉल उत्पादन से गन्ने की खेती को बढ़ावा मिलेगा और साथ ही किसानों को उनकी उपज के लिए अधिक कीमत मिलेगी।उन्होंने कहा की, राज्य में मक्का उत्पादन बढ़ा है। मक्का का उपयोग इथेनॉल उत्पादन के लिए भी किया जाएगा। जिससे किसानों की कुल वित्तीय स्थिति इथेनॉल उत्पादन से सुधर जाएगी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि, बिहार सरकार ने 2006 में केंद्र सरकार को इथेनॉल उत्पादन का प्रस्ताव भेजा था। हालांकि, केंद्र की तत्कालीन यूपीए सरकार ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। उन्होंने दावा किया की, एक निवेशक 21,000 करोड़ रुपये के इथेनॉल उत्पादन परियोजना के साथ आया था, लेकिन यह अमल में नहीं ला सका। कुमार ने कहा, मुझे खुशी है कि वर्तमान सरकार ने इथेनॉल उत्पादन को मंजूरी दी है। बैठक में डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी के साथ-साथ उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने भाग लिया। बैठक में भाग लेने वाले वरिष्ठ अधिकारियों में उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा, प्रमुख सचिव एस सिद्धार्थ और प्रमुख सचिव (गन्ना उद्योग) एन विजयलक्ष्मी शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here