नए साल में गन्ना बकाया मिलने की उम्मीद

2472

रुड़की (उत्तराखंड): गन्ना बकाया से किसान नाराज़ है लेकिन नए साल में उनका भुगतान मिलने की उम्मीद है। प्रशासन की कड़ाई के बावजूद चीनी मिलों ने बकाया नहीं चुकाया।

बता दें कि इस साल के पेराई सत्र के भुगतान को लेकर चीनी मिलें जल्द भुगतान देने का आश्वाशन दे रही है। लक्सर चीनी मिल ने नए पेराई सत्र की शुरुआत कर दी है, लेकिन लिब्बरहेड़ी चीनी मिल की ओर से मात्र आश्वासन दिए जा रहे हैं। इकबालपुर चीनी मिल ने तीन दिन के भुगतान के रूप में 48 लाख रुपये तो दिए, लेकिन यह भुगतान अभी तक गन्ना समिति में ही अटका हुआ है। इस भुगतान को लेकर किसान और गन्ना विभाग में गदर मचा हुआ है। किसानों की हालत खस्ता है। किसान पिछले साल के बकाया को लेकर परेशान है। लिब्बरहेड़ी और लक्सर चीनी मिल ने पुराने पेराई सीजन का भुगतान अब पूरा किया है, वहीं इकबालपुर पर दो पेराई सीजन का भुगतान बकाया है। लिब्बरहेड़ी चीनी मिल के महाप्रबंधक गन्ना ने बताया कि चीनी मिल की ओर से गन्ने के भुगतान की व्यवस्था की जा रही है। साफ है कि गन्ना किसानों को अब मौजूदा पेराई सीजन का भुगतान नए साल में ही मिल सकेगा।

सहायक गन्ना आयुक्त शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि गन्ना किसानों को शीघ्र भुगतान करने के संबंध में चीनी मिलों को नोटिस दिया गया है। 14 दिन पहले तक का समस्त भुगतान चीनी मिलों को कर देना चाहिए था। कई चीनी मिलों ने इस निर्देश का पालन नहीं किया तथा इस संबंध में उनसे स्पष्टीकरण देने को कहा गया है। उनका जवाब आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here