किसान, चीनी मिल के साथ गन्ना दरों को लेकर लिखित समझौता रखें: मंत्री

443

बेलगावी: कर्नाटक के मंत्री सी. टी. रवि ने कहा है कि, राज्य के 69 चीनी मिलों में से 61 मिलों ने गन्ने की पेराई शुरू कर दी है। उन्होंने कहा की हमने डिप्टी कमिश्नर एसबी बोम्मनहल्ली को निर्देश दिया है कि, पेराई शुरू होने से पहले उचित भुगतान सुनिश्चित करें।

एस निजलिंगप्पा शुगर फैक्ट्री फाउंडेशन बोर्ड की बैठक में भाग लेते हुए रवि ने कहा कि, जिले में बाढ़ के कारण 66 हजार टन गन्ने की पैदावार में कमी आई है। उन्होंने कहा, हालांकि, सरकार ने उत्पादकों की सुविधा के लिए एस निजलिंगप्पा शुगर फैक्ट्री फाउंडेशन को पहले ही दो करोड़ रुपये दिए हैं।

मीडिया से बात करते हुए, मंत्री ने कहा कि चीनी मिलों को बिना किसी देरी के किसानों को लंबित राशि का भुगतान करना चाहिए और उत्पादकों को सुझाव दिया कि वे पेराई से पहले अग्रिम धनराशि प्राप्त करें और गन्ना दरों के बारे में चीनी मिल मालिकों के साथ एक लिखित समझौता रखें। इस तरह के लिखित समझौतों से सरकार को मिल मालिकों और गन्ना उत्पादकों के बीच विवाद के मामले में हस्तक्षेप करने में मदद मिलेगी।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here